V24 NEWS CHANNEL /पीराराम प्रजापत,

पिंडवाड़ा, सिरोही/राजस्थान ।

मूलभूत सुविधाओं के लिए तरसता झाडोली का राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक स्कूल ।

राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय झाड़ोली (पिंडवाड़ा) क्रमोन्नत के 2 साल बाद भी शिक्षण व्यवस्थाओं के लिए तरस रहा है ।

यहां क्लास 1 से 12 तक पढ़ाई होती है और बालिकाओं के बैठने के लिए मात्र 8 कक्ष बने हुए है

विद्यालय कक्षों में बैठने की पर्याप्त जगह नहीं होने के कारण छात्राओं को रोज परेशानी का सामना करना पड़ता है। जबकि विद्यालय में 260 नामांकन है और प्रवेश जारी है । यहां स्कूल की बिल्डिंग इतनी छोटी है कि प्रार्थना भी भीड़ में ही करनी पड़ती है । और बालिकाओं के लिए खेलने का मैदान तो है ही नही , जबकि यहाँ शारीरिक शिक्षक भी महिला नियुक्त है मगर खेलाए तो कहा खेलाए और यहां विद्यालय में भूगोल विषय है।विद्यालय में प्रेक्टिकल के लिए न तो लेब है और न ही कमरा ।विद्यालय के लिए प्रधानाचार्य की नियुक्ति तो कर दी मगर व्याख्याता नही है न ही चतुर्थ श्रेणि कर्मचारी है न लिपिक है ।

ग्रामीण लोग कई बार कमरों हेतु जिला कलेक्टर , जिला शिक्षा अधिकारी से भी मिल चुके है मगर कोई हल नही निकल रहा है स्थानीय सरपन्स कैलाश सुथार ने भी अधिकारियों से कई बार सम्पर्क किया मगर कोई हल नही निकल रहा है ।

आबू पिंडवाड़ा विधायक समाराम जी ,जिला परिषद सदस्य किरण भाई पुरोहित ने स्वयं देखा मगर वो भी अभी तक हल नही निकाल सके ।

स्थानीय ग्रामवासियों ने अब मजबूर होकर सरपन्स के नेतृत्व में आंदोलन करने की चेतावनी दी है ।

यहां के अधिशेष शिक्षकों ने व 4 सेकंड ग्रेड शिक्षकों ने स्कूल को बहुत आकर्षक बनाया है मगर बिल्डिंग छोटा होने से वो भी कुछ नही कर सकते है ।

यहां विधुत विभाग की भी बड़ी लापरवाही देखने को मिली है विद्यालय परिसर में पीछे 11000 केवी का लोहे का खम्भा भी है और ऊपर विद्युत तार भी है कभी भी बड़े हादसे का भी अंदेशा रहता है । अगर समस्या का शीघ्र समाधान नही होता है तो विद्यालय में नवीन प्रवेश भी काफी असर पड़ सकता है ।

Share.

Leave A Reply